दलित मंच
अगर आप भी मेरे तरह चाहते है कि दलित विचारधारा को वो मुकाम हासिल नहीं है तो कृपया खुद को यहाँ Register करे और योगदान दे ! धन्यवाद

मनमोहन का सुपर संडे: राहुल ब्रिगेड का प्रमोशन!

View previous topic View next topic Go down

मनमोहन का सुपर संडे: राहुल ब्रिगेड का प्रमोशन!

Post by KULDEEP BIRWAL on Sun Oct 28, 2012 12:38 pm

चुनावी मौसम और आए दिन लगते भ्रष्टाचार के आरोपों से परेशान प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह लंबी जद्दोजहद के बाद आखिरकार अपनी सरकार का चेहरा बदलने जा रहे हैं। राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी नए मंत्रियों को आज 11:30 बजे शपथ दिलाएंगे। सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय कैबिनेट में विभागों के आवंटन को लेकर एक बार फिर प्रधानमंत्री से सोनिया गांधी की चर्चा हो सकती है। उसके बाद फाइनल लिस्‍ट राष्ट्रपति भवन को भेज दी जाएगी। (पढ़ें: किसने की सांसद निधि खर्च करने में कंजूसी?)

यूपीए सरकार में व्यापक फेरबदल से पहले विदेश मंत्री एस एम कृष्णा समेत सात मंत्री इस्तीफा (पढ़ें: मंत्रियों ने क्‍यों दिए इस्‍तीफे?) दे चुके हैं। इससे साफ है कि फेरबदल बड़े स्तर पर होगा। सिर्फ सत्ता ही नहीं, संगठन में भी बड़े पैमाने पर बदलाव किया जा सकता है। फेरबदल के तहत मनमोहन सिंह 13 नए चेहरों के साथ 2014 के आम चुनाव तक नई पारी खेलने के लिए तैयार होंगे। उनकी टीम में कई पुराने चेहरों का महत्व कायम रखा गया है, वहीं कई अन्य के मंत्रालयों पर गाज गिर गई है। कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी कैबिनेट में शामिल होंगे या फिर संगठन में ही और बड़ी जिम्‍मेदारी संभालेंगे, इस पर अभी तक सस्‍पेंस बना हुआ है लेकिन इतना जरूर है कि मनमोहन की नई टीम में राहुल की यूथ ब्रिगेड को फायदा होगा। (पढ़ें: कांग्रेस सांसद जिंदल को 150 करोड़ का मानहानि नोटिस)

मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने वाले नए चेहरों में मनीष तिवारी (पंजाब), चिरंजीवी (आंध्र), रानी नारा (असम), दीपा दास मुंशी (बंगाल), के. सुरेश (केरल), शशि थरूर (केरल) और अबु हसन खान चौधरी (पश्चिम बंगाल) शामिल हैं। वहीं पुराने चेहरों में पवन बंसल, सीपी जोशी, अश्विनी कुमार और कमल नाथ को नई जिम्मेदारियां दी जा रही हैं। युवा सांसदों में सचिन पायलट , मिलिंद देवड़ा, पुरंदेश्वरी देवी को बड़ी भूमिका के लिए आगे लाया जा रहा है। वहीं संसदीय कार्य राज्यमंत्री राजीव शुक्ला को एक और मंत्रालय के प्रभार से नवाजा जाएगा। (पढ़ें, जांच से पहले गडकरी को दोषी बताना गलत : आरएसएस)

सूचना और प्रसारण मंत्री के पद से इस्तीफा दे चुकी अंबिका सोनी को संगठन में गुलाम नबी आजाद की जगह महासचिव बनाया जाएगा। गुलाम नबी आजाद सिर्फ मंत्री रहेंगे। अभी वह पार्टी के महासचिव भी है। सूत्रों के अनुसार अंबिका सोनी को जल्द ही गुलाम नबी आजाद के प्रभाव वाले राज्य भी दिए जा सकते हैं।

मंत्रियों में मची सरकार से दूर जाने की होड़

मंत्रिमंडल में फेरबदल से पहले सात मंत्रियों ने इस्तीफे दे दिए। शनिवार को तीन कैबिनेट और तीन राज्य मंत्रियों ने इस्तीफे सौंप दिए। इन कैबिनेट मंत्रियों में अंबिका सोनी, मुकुल वासनिक, सुबोधकांत सहाय और राज्य मंत्रियों में महादेव खंडेला, अगाथा संगमा और विन्सेंट पॉल शामिल हैं।





bhaskar.com
avatar
KULDEEP BIRWAL
Admin

Posts : 149
Join date : 30.04.2011
Age : 37
Location : ROHTAK

View user profile http://kuldeepsir.com

Back to top Go down

View previous topic View next topic Back to top


 
Permissions in this forum:
You cannot reply to topics in this forum